नवनियुक्त लेफ्टिनेंट किशन चौबे का हुआ भव्य स्वागत ! _______

30-05-2021 11:10:51 PM


कड़ी लगन ,अथक परिश्रम और लगातार मेहनत के बल पर यू पी एस सी ,सी डी एस 2019 भर्ती से सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर सीधे सलेक्ट हुए वाराणसी के बाबतपुर नीयार ग्राम निवासी किशन चौबे का आज उनके पैतृक गांव बाबतपुर नियार पहुंचने पर जोरदार  भव्य स्वागत किया गया । विश्व हिंदी पत्रकारिता दिवस पर  बतौर  मुख्य अतिथि उपस्थित रहे ब्लॉक केराकत जनपद जौनपुर के पत्रकार और शिक्षक पंकज कुमार मिश्रा तथा साथ में विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे ब्लॉक चोलापुर के ब्लॉक प्रमुख और समाजसेवी सुभाष यादव जी , दोनों अतिथियों ने  मंच से लेफ्टिनेंट किशन चौबे का माल्यार्पण कर स्वागत किया । समारोह में सोसल डिस्टेसिंग और कोविड नियमों  का कड़ाई से पालन किया गया । आपको बता दे कि सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर सलेक्शन से पूर्व किशन चौबे मुंबई में आई ए एस की तैयारी कर रहे थे । किशन की पूरी पढ़ाई मुंबई से हुई है । किशन के लेफ्टिनेंट पद पर चयनित होने खबर जैसे ही उनके पैतृक गांव में पहुंची थी लोगो में खुशी की लहर दौड़ पड़ी थी । किशन के सलेक्शन के बाद उनके प्रथम इंटरव्यू से पूर्व ही पत्रकार एवं शिक्षक पंकज कुमार मिश्रा ने उन्हें सफलता हेतु बधाई प्रेषित की थी और इंटरव्यू के बाद जैसे ही किशन का सलेक्शन हुआ किशन ने खुद अपने सलेक्ट होने की सूचना फोन द्वारा प्रदत्त किया । किशन ने ट्रेनिंग के बाद बताया की सेना के प्रशिक्षण अत्यन्त कठिन और नियमित होता है जिसमें आपको सेना में ऑफिसर के रवैए , कायदे , और नियमितता पर बल दिया जाता है ।
              किशन चौबे के पिता श्री तरुण चौबे मुंबई में अध्यापक है और क्षेत्र के जानें माने समाजसेवी है । श्री तरुण चौबे से जब किशन के इस उपलब्धि के विषय में पूछा गया तो उन्होंने बड़े गर्व से बताया की उनकी आंतरिक अभिलाषा  थी कि उनका इकलौता बेटा देश में सेना के लिए काम करे और देश की सेवा करे । आपको बता दे कि किशन के चाचा अरुण चौबे भी सेना में जे सी ओ सूबेदार के पद पर तैनात है और देश सेवा में लगे हुए है । किशन चौबे की माता श्रीमती उषा चौबे भी अपने पुत्र के सलेक्शन के बाद प्रथम गृह आगमन पर हृदय से गदगद दिखाई दी ।  आरती उतारते वक्त उनकी आंखे भरी हुई थी । प्रसन्नता से उनके बोल नहीं फूट रहे थे, चन्दन तिलक कर अपने पुत्र को गले से लगाया । जैसा कि आप सबको पता है कि सेना में ट्रेनिंग का कार्य अत्यन्त दुरूह होता है । पिछले ग्यारह माह में ट्रेंनिग के दौरान किशन  कई मुश्किल परिस्थतियों से भी जूझते रहे । स्वागत समारोह के अवसर पर क्षेत्र के संभ्रांत जनों के साथ - साथ श्री चन्द्रभान मिश्रा ,  श्री त्रिलोकी नाथ मिश्र ,  श्री संतोष कुमार  मिश्रा , दिलीप शुक्ला ,अश्वनी चौबे , राज चौबे , सिद्धार्थ चौबे, शिवम् मिश्रा, इशांक शुक्ल  इत्यादि  उपस्थित रहे ।


Comentarios

No Comment Available Here !

Leave a Reply

अपना कमेंट लिखें। कॉमेंट में किसी भी तरह की अभद्र भाषा का प्रयोग न करें। *

भारतवर्ष

1971:विजय दिवस पर विशेष

16-12-2020 10:24:44 AM भारतवर्ष

वीरता की मिसाल: झलकारी बाई

22-11-2020 02:39:23 PM भारतवर्ष

भारतवर्ष

अगर आपके पास कोई समाचार हो तो आप हमे jaibharatvarsh4@gmail.com पर भेज सकते हैं। >>

Follow us

Mailing list

Copyright 2020. All right reserved